صور الصفحة
PDF
النشر الإلكتروني

५६०

५६१

५६२

५६३

५६४

५६५

भिजा वस्त्र चिपिया दिले ऐ राजा मुख खानर उपर। मुख धरिया कान्दे राजा वेलार दुइ पहर । घाड़त हस्त दिया राजाक वाहेर करे दिल ॥ आजि कालि करिया वार वत्सर हइल ॥ सिकिया वाकुया निले दुइटा जलर हाड़ि। जल भरिवार गेल करतोया नदी॥ नदीर पाड़े याया राजा पड़िया गेल धान्दा । अदुना पदुनार कथा ना सुनिल कानत । परान हारावार पाइलाम वुड़ा मार वचनत ॥ येन मत धर्मि राजा कन्यार नाम

लैल

। उयटे हातर पसार आउलीया पडिल । अकारन करिया कन्या कान्दिवार लागिल ॥ वार वत्सर गेल स्यामि आओ ना करिया । तेर वत्सर भाल हुइल आसिया ॥ आजि केन हस्तर पसार पडिल याउलीया। ना जानि सोयामी धन गेल मरिया ॥ दुति गो कि मते वाहिर हमु । दुखर कथा काइल सकालत निरलत कमु ॥ वृन्दावनत वाजे वांसि । मने कय स्यामक देखों आसि ॥

॥ धुया ॥ दोनो वइने रोदन करे नाट मन्दिर घरत । सारी सुया पाखी सुनिल पिञ्जिरार मामात ॥ सारी उठिया वले सुया वड़ भाइ । मा केन रोदन करे चल देखवार याइ ॥ जोरा जोरि करि पिञ्जिरार खाटी फेलिल भाङ्गिया । ऐ दिया सारी सुया गेल उड़ाओ दिया ॥ चालर खेड़ निचिया कन्यार वाजुत पड़े। केने २ मायो रोदन कर नाट मन्दिर घरे ॥ कन्या वले मुन वाका पक्षि सकल । वार वत्सर गेल तोर वावा राओदा करिया। तेर वत्सर भार पाइल ना आइल फिरिया ॥

[merged small][merged small][merged small][ocr errors][merged small][merged small][merged small]
[ocr errors][merged small]

६०३

६०४

६०५

आइज केने मार हस्तर पसार पडिल ग्राउलीया । ना जानि तोर पिता गेल मरिया ॥

आमार दुइ भाइक देओ मा छाड़िया। कोनटे आके आमार पिता आसि वल्लास करिया ॥ याओ २ वावा परदेस लागिया । कोटे ग्राछे तोमार पिता आइस तलास करिया ॥ जननीर चरनत पाखी परनाम करिल । दक्षिन पाठने पाखी उड़ाओ दिया गेल ॥ सात दिन भरि पाखी उड़िते लागिल । तातेस्रो धर्मि राजार लागाल ना पाइल ॥ नदीर पाडत आछे वट पार पाइकड़। वटर ठालत पाखी पहल उड़ाओ दिया। पश्चिम ठाल हइते पाखी पुर्व ठाल याय । भार धरि धर्मि राजा जल भरिवार याय ॥ जलत नामिया दन्त माञ्जिवार लागिल । माथार उपर पाखि राजार उड़िवार लागिल ॥

६०७

६०८

६०६

६१०

६११

६१२

६१३

६१४

तोरा नाकिन हन राजा गोपी चन् ।
तोमार खवरत आसि भाइ दुइ जन ॥
हस्त वाड़ेया दिल ।
उड़ाओ दिया पाखी दुइटा वाजुत पडिल ॥
दुइ नयने प्रेम धारा राजा वहिवार लागिल ।
यत दुक हझ्याके राजार वलिवार लागिल ॥
नाकिड़ि पाकिड़ि पात आनिलेन विड़िया ।
दांत दिया खागड़ार कलम माठाइले वसिया ।
काञ्जी अङ्गाली दिया वांओ उड़ात फाडिल ।
रे रक्त दिया लेखन लिखिवार लागिल ।
यत दुकर कथा राजा लिखिवार लागिल ॥
सुमायो हइले निवेन उद्धार करिया।
कुमाओ हुइले थुइवेन पापत फेलिया ॥
एह लिखन दिस तार वराइर वरावर ।
राजार चरनत पाखि प्रनाम जानाया।
मयनार महलत पाखि गेल उड़ायो दिया ॥

५१५

६१७

चाल केन्दा करिया लेखन दिल फेलाझ्या ।
देख देख रे वुड़ा साली तोर मुण्ड खान पड़िया ॥
सुमायो हुइले निवे उद्धार करिया ॥
खाम खुलिया लेखन पड़िवार लागिल ।
अकारन करिया पाखि कान्दिवार लागिल ॥

६१८ ६१६

६२०

[blocks in formation]

वियाने गियाछ यादुरे।
रविर झालाय मल्ल आमार वाछारे ॥

॥धुया ॥
ध्यानत मयना वुड़ी ध्यान करि चाय ।
चौद्द ताल जलर भितर हाडिर लागाल पाय ॥
खरुपा ज्ञान माइल्ले तुलिया ।
चाक भांय हाड़ि सिद्धार फेलाइल काटिया ॥
सरदि सागर दिया थाछे भासिया ।
चुल जोड़ा धरिया मयना डागात उठाइल ॥
वज्जर चायड़ हाड़िक कसिया मारिल ।
ध्यानत आछिल हाड़ि चमकिया उठिल ॥
ध्यानत हाड़ी गुरु ध्यान करि चाय ।
ध्यानर माझत मयनार लागाल पाय ॥
याओं यायों दिदि राजाक लागिया ।
तोर वेटाक उद्धार करिले पिछे खामु गाजा ॥
यदि काले छाइलार ज्ञान अल्प देखिव ।
छाइ भस्म करिया हाड़ि तोक यम घर पाठाव ॥
ये घाटत राजार वेटा जल भरे वसिया ।
ऐ घाटत हाडि सिद्धा राजा उत्तरिल याया ॥
दुर हइते देखिल राजा हाड़िर चकर।
दुइटा हाड़ि थुइले दुइटे भाङ्गिया ॥
माथार चुल राजा दुइ अई करिल ।
हाड़िर चरनत राजा पडिल भजिया ॥
ऐ धर्मि राजाक झोलङ्गाय भड़िया ।
नटीर महलत गेल चलिया ।
नटीर महलत याया हाड़ि जङ्कार छाडिल ।
दुम दुम करि पुरि नडिवार लागिल ॥
नटी वले वान्दी वेटि कार पाने चारो

[blocks in formation]
[ocr errors]

६३४

६३५

६३६

६३७

६३८

६३६

६४०

६४१

कोनटे कार अथीत आइछ विदाय करि दायो ।
एह कथा सुनिया वान्दी आइल चलिया।
हाडिक देखिया वान्दी गेल फिरिया ॥
एह कथा जानाइल नटीर वरावर।
अथीत नोजा हाडि लस्वर ॥
एह कथा सुनिया नटी कान काम करिल ।
घरर भितर नटो लुकिया रहिल ॥
नटी नुकाझ्या रइल मने ार मने ।
हाड़ि सिद्धा जानिते पाइल अन्तर ध्याने ॥
हातर आसा नडि मारिल तुलिया ॥
तोक वले अासा नड़ि वाक्य मार धर।
हात गलत वान्धिया हिरा नटिक हाजिर कर ॥
एक आज्ञा पाइले सहस्स प्राज्ञा पाइल।
गर्जिया हिरा नटीर महलत सेन्दाइल ॥
काइते २ नटि वाइर करे आनिल ।
वार कड़ा कड़ि हाड़ी तखन उठाइल ॥
वार वत्सरिया खत नटी आनिया योगाइल ।
वार कड़ा कड़ी गनिया नटीर हातत दिल ॥
नटीर हातर खत खान हाड़ीर हातत दिल ।
राम २ वलिया खत फाड़िया फेलाइल ॥
एक हिड़ा गङ्गार जल हाड़ी आनिल योगाश्या ।
सात भड्या धरिल नटीक चितर करिया ॥
वाइस मेनिया खड़म राजार चरनत लागाइया ।
नटीर वुकत राजाक दिल चड़ाझ्या ॥
येतके हेले नड़े आर चड़े।
वर्तिस पाञ्जर नटीर भागी गुड़ा करे li
राम २ वलिया येन जल मस्तकत काली दिल ।
यत किछु पाप गुना दुरे चलिया गेल ॥
विनान करिया राजा अङ्गत हाल यति ।
भिजा वस्त्र फेलाया पिन्दे सुकला पाटर धुति ॥
हाड़ी वले राजार वेटा वाक्य मोर धर।
वारो वत्सर तप करे नटी महलर भितर।
किछ वाक्य सिद्ध कर नटीर वरावर ॥

[merged small][merged small][merged small][merged small][merged small][merged small][merged small][merged small][merged small][ocr errors][merged small]

६५०

६५१

६५२

६५३ ६५४

या या हिरा नटी तोक दिनु वर ।
वगदुल पाखि हझ्या थाक राज्यर भितर ॥
मनि वाक्य वृथा ना हाल ।
वगदुल रुप हस्ये सर्गत उड़े गेल ॥
वाम हस्त दिया नटीक धरिल ।
नटीक धरिया दुइ खान करिल ॥
आग धर दिले सर्गत उड़ाइया ।
पाछ धर दिल दरियात फेलाझ्या ॥
दरियात पड़िया नटी दोहाइ फिराइल |
या या नटी तोक दिनु वर ।
चेका माछ हझ्या थाक जलर भितर।
या या चापाइ वान्दी तोक दिनु वर।
वेस्था हड्या थाक राज्यर भितर ॥
जुयान कालत खाओ कामाइ करिया ।
सेस कालत धरेक पाइक भातार।
जलिया गुड़िया भाङ्गिवे तोर वत्रिस पाञ्जर ॥
या या हिरा धन कड़ी तोक दिनु वर ।
खोलाहाटि हझ्या थाक खोलाहाटि सहर ।

६५५

६५६

६५७

६५०

६५६

६६०

हिरार वाड़ी घर नण्ड भण्ड करिया ।
ज्ञान सिखिवार राजाक लइ गेल धरिया ॥
तोक वलां राजार वेटा वाक्य मार धर।
किकु भिक्षा करि पान वन्दरर भितर ।
सिस्य गुरु वान्धि खाइ परदा सहर ॥ ॥
हामित राजार वेटा नामे ब्रह्मचारि।
केमन करे भिक्षा करे निल्लय ना जानि ॥
गोटा चारिक कथा यखन राजाक सिखाइल ।
हाते पात्र निया गमन करिल ॥
हाड़ी वले जयरे विधि मार कर्मर फल ।
मार घरर चेला कोना सर्वाङ्ग सुन्दर ।
गिरिर घरर वउ वेटीक करिवे पागल ॥

६६१

६६२

६६३

[blocks in formation]
« السابقةمتابعة »